30.8 C
Meerut
Tuesday, June 15, 2021
Home पॉलिटिक्स सत्याग्रह ही एक मात्र सही तरीका है आंदोलन का : राहुल गांधी

सत्याग्रह ही एक मात्र सही तरीका है आंदोलन का : राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारत बंद को अपना समर्थन दिया है और कहा है कि इन कानूनों के विरोध करने का तरीका ‘सत्याग्रह’ ही है। उन्हें उम्मीद है कि यह विरोध शांतिपूर्ण होगा।

शुक्रवार को राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, “भारत का इतिहास गवाह है कि सत्याग्रह से ही अन्याय, अहंकार और अत्याचार का अंत होता है। आंदोलन देशहित में शांतिपूर्ण होना चाहिए।”

कांग्रेस कृषि कानूनों का विरोध करती रही है और आंदोलनकारी किसानों के समर्थन में है। राहुल गांधी ने भी इसमें हिस्सा लिया था और पंजाब और राजस्थान में ट्रैक्टर यात्रा की थी। पार्टी किसानों के समर्थन में देश भर में विरोध प्रदर्शन आयोजित करती रही है।

इस बीच सैकड़ों किसानों ने 3 विवादास्पद कृषि कानूनों को लेकर चल रहे विरोध के 4 महीने पूरे होने पर शुक्रवार को 12 घंटे के लिए किए गए भारत बंद के तहत दिल्ली-उत्तर प्रदेश गाजीपुर सीमा को भी बंद कर दिया। किसानों ने दिल्ली को गाजियाबाद से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 24 को भी बंद कर दिया है। किसान तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर हाईवे पर बैठे हुए हैं।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एक ट्वीट में कहा है, “गाजीपुर बॉर्डर एनएच-24 पर यातायात बंद है, कृपया यहां से आने से बचें।”

संयुक्ता किसान मोर्चा (एसकेएम) ने गुरुवार को कहा कि उसके ‘भारत बंद’ आह्वान के चलते शुक्रवार को सभी दुकानें, मॉल, बाजार और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। 12 घंटे का बंद सुबह 6 बजे से 6 बजे तक चलेगा। हालांकि, इस दौरान एम्बुलेंस और अन्य आवश्यक सेवाओं पर असर नहीं पड़ने दिया जाएगा।

एसकेएम द्वारा किए गए इस भारत बंद को विभिन्न किसान संगठन, ट्रेड यूनियन, छात्र समूह, वकील संघ, राजनीतिक दल और राज्य सरकारों के कई प्रतिनिधि समर्थन दे रहे हैं।कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारत बंद को अपना समर्थन दिया है और कहा है कि इन कानूनों के विरोध करने का तरीका ‘सत्याग्रह’ ही है। उन्हें उम्मीद है कि यह विरोध शांतिपूर्ण होगा। शुक्रवार को राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, “भारत का इतिहास गवाह है कि सत्याग्रह से ही अन्याय, अहंकार और अत्याचार का अंत होता है। आंदोलन देशहित में शांतिपूर्ण होना चाहिए।” कांग्रेस कृषि कानूनों का विरोध करती रही है और आंदोलनकारी किसानों के समर्थन में है। राहुल गांधी ने भी इसमें हिस्सा लिया था और पंजाब और राजस्थान में ट्रैक्टर यात्रा की थी। पार्टी किसानों के समर्थन में देश भर में विरोध प्रदर्शन आयोजित करती रही है। इस बीच सैकड़ों किसानों ने 3 विवादास्पद कृषि कानूनों को लेकर चल रहे विरोध के 4 महीने पूरे होने पर शुक्रवार को 12 घंटे के लिए किए गए भारत बंद के तहत दिल्ली-उत्तर प्रदेश गाजीपुर सीमा को भी बंद कर दिया। किसानों ने दिल्ली को गाजियाबाद से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 24 को भी बंद कर दिया है। किसान तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर हाईवे पर बैठे हुए हैं। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एक ट्वीट में कहा है, “गाजीपुर बॉर्डर एनएच-24 पर यातायात बंद है, कृपया यहां से आने से बचें।” संयुक्ता किसान मोर्चा (एसकेएम) ने गुरुवार को कहा कि उसके ‘भारत बंद’ आह्वान के चलते शुक्रवार को सभी दुकानें, मॉल, बाजार और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। 12 घंटे का बंद सुबह 6 बजे से 6 बजे तक चलेगा। हालांकि, इस दौरान एम्बुलेंस और अन्य आवश्यक सेवाओं पर असर नहीं पड़ने दिया जाएगा। एसकेएम द्वारा किए गए इस भारत बंद को विभिन्न किसान संगठन, ट्रेड यूनियन, छात्र समूह, वकील संघ, राजनीतिक दल और राज्य सरकारों के कई प्रतिनिधि समर्थन दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

शादी से 5 दिन पहले प्रेमी ने की प्रेमिका की हत्या।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जनपद में एक सनसनीखेज घटना हुई है जिसमें प्रेमी मंगेतर ने अपनी प्रेमिका की शादी से महज़ 5...

“कोविड में ख़त्म हुए माता-पिता के बच्चो को मिलेगा आसरा: स्वाति सिंह

कोरोना काल में जिन बच्चो ने अपने माँ-बाप या फिर दोनों को खो दिया है,,,उनको संरक्षण देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार...

सिद्धपीठ मां शाकुम्भरी देवी मंदिर को कराया गया सेनेटाइज़, कोविड-19 नियमो के तहत होंगे दर्शन

कोरोना कॉल में लॉक डाउन के कारण बन्द पड़े 51 सिद्धपीठ में से एक सिद्धपीठ मां शाकुम्भरी देवी मंदिर के कपाट आज...

सुल्तानपुर में ग्रामीणों की सक्रियता से बड़ा ट्रेन हादसा होने से बच गया

सुल्तानपुर में ग्रामीणों की सक्रियता से बड़ा ट्रेन हादसा होने से बच गया। दरअसल लखनऊ वाराणसी रेलवे ट्रैक पर एक पटरी टूटी...

Recent Comments