30.8 C
Meerut
Tuesday, June 15, 2021
Home शहर और राज्य सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के हालात खराब, ग्रामीणों का आरोप नहीं लेता कोई...

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के हालात खराब, ग्रामीणों का आरोप नहीं लेता कोई भी सुध

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जनपद के पाकबड़ा इलाके के गांव समथाल में स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी के चलते सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लगा कूड़े का ढेर, ग्रामीणों का आरोप है ना तो इस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कभी डॉक्टर आते हैं और ना ही कोई स्टाफ जिसके चलते स्वास्थ्य केंद्र में लोगों ने कूड़े का ढेर लगा दिया है, जिसकी शिकायत ग्रामीणों द्वारा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से की गई थी लेकिन इसके बावजूद भी अब तक इस स्वास्थ्य केंद्र को ठीक नहीं कराया गया, करोना कॉल में 15-20 लोगों की बीमारियों से मौत हुई है,लेकिन इसके बावजूद भी ना तो इस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की कोई भी सुध लेने वाला नहीं है.

पाकबड़ा इलाके के गांव समथाल मैं 4000 लोगों की आबादी है, इस गांव में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बना हुआ तो है,लेकिन यहां पर कोई भी स्वास्थ्य कर्मी स्वास्थ्य केंद्र में नहीं आता है,जिसके चलते स्वास्थ्य केंद्र में चारों तरफ कूड़े का ढेर है, ग्रामीणों का आरोप है स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी के चलते अस्पताल होने के बावजूद उन लोगों को इलाज कराने के लिए या तो नगर पंचायत पाकबड़ा के सीएससी अस्पताल में जाना होता है या फिर मुरादाबाद जनपद के जिला चिकित्सालय में जाना पड़ता है, जब से कोरोना महामारी आई है इसी बीच गांव में 15 से 20 लोगों की मौत हुई है जिनमें से किसी को बुखार था तो कोई किसी और समस्या से पीड़ित था अगर यह स्वास्थ्य केंद्र चालू होता तो कुछ लोगों को बचाया जा सकता था लेकिन स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही इतनी ज्यादा है ना तो कभी उन्होंने यहां पर डॉक्टर भेजे हैं और ना ही कोई स्वास्थ्य कर्मी स्वास्थ्य केंद्र में ड्यूटी लगाई है, अगर यह स्वास्थ्य केंद्र ठीक कर दिया जाए तो इससे बहुत से लोगों को लाभ मिल सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

शादी से 5 दिन पहले प्रेमी ने की प्रेमिका की हत्या।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जनपद में एक सनसनीखेज घटना हुई है जिसमें प्रेमी मंगेतर ने अपनी प्रेमिका की शादी से महज़ 5...

“कोविड में ख़त्म हुए माता-पिता के बच्चो को मिलेगा आसरा: स्वाति सिंह

कोरोना काल में जिन बच्चो ने अपने माँ-बाप या फिर दोनों को खो दिया है,,,उनको संरक्षण देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार...

सिद्धपीठ मां शाकुम्भरी देवी मंदिर को कराया गया सेनेटाइज़, कोविड-19 नियमो के तहत होंगे दर्शन

कोरोना कॉल में लॉक डाउन के कारण बन्द पड़े 51 सिद्धपीठ में से एक सिद्धपीठ मां शाकुम्भरी देवी मंदिर के कपाट आज...

सुल्तानपुर में ग्रामीणों की सक्रियता से बड़ा ट्रेन हादसा होने से बच गया

सुल्तानपुर में ग्रामीणों की सक्रियता से बड़ा ट्रेन हादसा होने से बच गया। दरअसल लखनऊ वाराणसी रेलवे ट्रैक पर एक पटरी टूटी...

Recent Comments