27.7 C
Meerut
Friday, September 24, 2021
Home शहर और राज्य बाराबंकी में शुरू होगी मुख्तार अंसारी की पेशी, वारंट जारी

बाराबंकी में शुरू होगी मुख्तार अंसारी की पेशी, वारंट जारी

मुख्तार अंसारी ने पुलिस को अपने दिए गए बयान में ये स्वीकार किया है कि उसकी साजिश से ही बाराबंकी में एम्बुलेंस की खरीद व पंजीकरण कराया गया था। इससे पहले कोर्ट से आदेश मिलने के बाद बाराबंकी एसपी यमुना प्रसाद द्वारा गाठित एसआईटी ने 25 मई को बांदा जेल पहुंच कर दो दिन पूछताछ की थी। मुख्तार इस समय बांदा की ही जेल में बंद है। मुख्तार अंसारी को पंजाब जेल से 31 मार्च को मोहाली कोर्ट तक पेशी पर लाने व ले जाने में यूपी 41 नंबर की एम्बुलेंस का प्रयोग किया गया था।

उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद बाहुबली विधायक माफ़िया मुख़्तार अंसारी की पेशी अब बाराबंकी में शुरू होगी। न्यायालय ने एम्बुलेंस के फर्जी कागजात से रजिस्ट्रेशन कराने के मामले में 14 जून को कोर्ट में तलब किया है। इसके लिए प्रभारी मुख्य न्यायिक दंड़ाधिकारी नंदकुमार ने बी वारंट जारी किया है। कोर्ट में पुलिस ने बताया है कि एम्बुलेंस मामले में फर्जी पते से पंजीकरण में मुख्तार अंसारी की संलिप्तता सही है।

माफिया ने कबूला बाराबंकी कनेक्शन

मुख्तार अंसारी ने पुलिस को अपने दिए गए 161 के बयान में ये स्वीकार किया है कि उसकी साजिश से ही बाराबंकी में एम्बुलेंस की खरीद व पंजीकरण कराया गया था। इससे पहले कोर्ट से आदेश मिलने के बाद बाराबंकी एसपी यमुना प्रसाद द्वारा गाठित एसआईटी ने 25 मई को बाँदा जेल पहुंच कर दो दिन पूछताछ की थी। मुख्तार इस समय बांदा की ही जेल में बंद है। पूर्वांचल के माफिया व विधायक मुख्तार अंसारी को पंजाब जेल से 31 मार्च को मोहाली कोर्ट तक पेशी पर लाने व ले जाने में यूपी 41 नंबर की एम्बुलेंस का प्रयोग किया गया था।

फर्जी पते पर हुआ एम्बुलेंस रजिस्ट्रेशन

मामले में बाराबंकी नगर कोतवाली में इस पंजीकृत वाहन की पड़ताल हुई तो पाया गया कि यह वाहन बाराबंकी नगर के रफीनगर के जिस मकान संख्या के पते पर दर्ज है। उस मकान संख्या का कोई घर ही नहीं है। एम्बुलेंस का 2014 में समाप्त हुआ फिटनेस का रिन्यूवल भी नहीं पाया गया। जिसका रजिस्ट्रेशन मऊ जिले के एक हाॅस्पिटल की संचालिका के नाम पर पाया गया। इस मामले में गठित एसआईटी ने मऊ जिले के श्याम संजीवनी हाॅस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर की संचालिका डाॅ.अलका राय, निदेशक शेषनाथ राय समेत सहयोगी रहे राजनाथ यादव को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

शाहिद की तलाश में पुलिस

पुलिस अधिकारी के अनुसार जांच में फर्जी दस्तावेजों पर एम्बुलेंस को फाइनेंस कराने वाला फरार मुख्य आरोपी शाहिद की धरपकड़ का प्रयास तेज कर दिया है। पुलिस के अनुसार जल्द उसकी गिरफ्तारी की जाएगी। इसके अलावा कई अन्य मुख्तार अंसारी के मदगारों के नाम सामने आए है। उनकी भी तलाश की जा रही है। इस मुक़दमे में मुख्तार के विधायक प्रतिनिधि मुजाहिद व उसके साथी भी अभी तक पुलिस पकड़ से दूर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर ओम प्रकाश चौटाला ने एचडी देवगौड़ा एवं मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा एवं उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

BJP के खिलाफ कांग्रेस का गद्दी छोड़ो अभियान, प्रदेश अध्यक्ष लल्लू ने कहा- ट्रस्ट के साथ मिलकर सरकार ने अयोध्या में की चंदा चोरी

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले प्रदर्शन और नारेबाजी का दौर शुरू हो गया है। खुद को फिर देश के सबसे...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू कर दिया...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू...

धनबाद जज हत्या मामला, सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया।

धनबाद एडिशनल सेशन जज की कथित हत्या का मामला। सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग...

Recent Comments