24.9 C
Meerut
Friday, October 15, 2021
Home शहर और राज्य लालजी वर्मा ने दिखाई ताकत, सांसद रितेश पाण्डेय को दी चुनौती

लालजी वर्मा ने दिखाई ताकत, सांसद रितेश पाण्डेय को दी चुनौती

बसपा से निष्कासित पूर्व विधानमंडल दल नेता लालजी वर्मा ने कार्यकर्ता एव समर्थकों की अम्बेडकरनगर में बैठक कर अपनी ताकत का प्रदर्शन किया।हजारों की संख्या में जुटे कार्यकर्ताओं के बीच लालजी वर्मा ने अम्बेडकरनगर से बसपा सांसद रितेश पाण्डेय और कोआर्डिनेटर घनश्याम खरवार पर बसपा सुप्रीमों को गुमराह कर पार्टी से निकलवाने का आरोप लगाते हुए हाथ मे गंगाजल लेकर कहा कि मैंने कभी पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से सम्पर्क नही किया। साथ ही सांसद रितेश पाण्डेय को चुनौती भी दे डाली कहा कि हिम्मत हो तो 2024 बीएसपी के टिकट पर लड़े चुनाव।

अम्बेडकरनगर कटेहरी विधानसभा के अपने कार्यालय पर बैठक में जुटी भारी भीड़ को संबोधित करते हुए बसपा के पूर्व विधान मंडल दल नेता लालजी वर्मा ने कहा कि मैंने 25 वर्षो से बसपा में रह कर पार्टी के हित के लिए कार्य किया है ।आज मेरी जो भी राजनीतिक हैसियत है वह पार्टी और आप लोगों की बदौलत है।लेकिन सांसद रितेश पाण्डेय और घनश्याम चन्द खरवार ने कुछ और नेताओं के साथ मिल कर बहन जी को गुमराह करके मुझे पार्टी से बाहर करवाया है।लालजी वर्मा ने कहा कि वर्ष 2005 में जब घनश्याम खरवार जब एक महिला के साथ पकड़े गए थे तब पार्टी मुखिया के कहने पर ही मैने उनको पार्टी से बाहर किया था ।उस समय बहन जी ने कहा था कि पार्टी में चरित्र हीन लोगों की कोई जगह नही है।

लालजी वर्मा ने कहा कि जलालपुर उपचुनाव में रितेश पांडे ने ही पार्टी को हराया था।उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि पँचायत चुनाव में घनश्याम खरवार ने टिकट बांटा था और उनका बेटा आलापुर विधानसभा के प्रभारी हैं लेकिन वहां भी कोई प्रत्यासी जीत नही सका जबकि मैने कटेहरी से चार प्रत्यासी जिताया है। साथ ही उन्होंने हाथ मे गंगाजल लेकर कहा कि मैंने कभी पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से सम्पर्क नही किया।मुझे कहीं जाना होता तो मुझे कई बार बड़े और मनचाहे पद का ऑफर कई दलों से मिला लेकिन मैंने सभी को ठुकरा दिया। साथ ही बीएसपी से सांसद रितेश पाण्डेय को चुनौती भी दे डाली कहा कि हिम्मत हो तो 2024 बीएसपी के टिकट पर लड़े लोकसभा चुनाव।

अपने सियासी भविष्य के बारे में लालजी वर्मा ने कहा कि क्षेत्र ,समाज और आप लोगों के हितों को ध्यान में रख कर ही कोई फैसला लूंगा । लालजी वर्मा ने कहा कि यदि पार्टी में वापसी नही हुई तो ऐसे दल में जाऊंगा जहाँ रह कर आप के हितों का ख्याल रख सकूं और इस जिले का विकास कर सकूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर ओम प्रकाश चौटाला ने एचडी देवगौड़ा एवं मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा एवं उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

BJP के खिलाफ कांग्रेस का गद्दी छोड़ो अभियान, प्रदेश अध्यक्ष लल्लू ने कहा- ट्रस्ट के साथ मिलकर सरकार ने अयोध्या में की चंदा चोरी

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले प्रदर्शन और नारेबाजी का दौर शुरू हो गया है। खुद को फिर देश के सबसे...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू कर दिया...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू...

धनबाद जज हत्या मामला, सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया।

धनबाद एडिशनल सेशन जज की कथित हत्या का मामला। सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग...

Recent Comments