33.3 C
Meerut
Wednesday, August 4, 2021
Home शहर और राज्य मंदिरों के पुजारियों ने महंगाई भत्ते की मांग को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय...

मंदिरों के पुजारियों ने महंगाई भत्ते की मांग को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय के आगे धरना प्रदर्शन किया

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में आज अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं के साथ मुरादाबाद के लगभग 100 अलग-अलग मंदिरों के पुजारियों ने महंगाई भत्ते की मांग को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय के आगे धरना प्रदर्शन किया और ज़िला अधिकारी से जैसे मुद्दों के मौलवियों को वेतन मिलता है वैसे ही मंदिर के पुजारियों वह पुरोहितों को वेतन और महंगाई भत्ता दिलाने की मांग की, प्रदर्शन करने वाले मंदिर के पुजारियों का कहना था कि लॉक डाउन की वजह से मंदिर काफी समय से बंद थे, इस कारण मंदिर में नियमित तौर पर आने वाला चढ़ावा भी नही आ रहा है, और नहीं कोई दान पुण्य कर रहा है जिस वजह से उनके सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है, अब मंदिरों में पूजा-अर्चना करने के लिए जरूरी धन भी उपलब्ध नहीं है इसके साथ ही उनके बच्चों की फीस भी जमा नहीं हो पा रही है, प्रदर्शन करने वाले पुजारियों ने जिलाधिकारी मुरादाबाद को ज्ञापन दिया है, जिलाधिकारी ने मंदिर के पुजारियों को आश्वासन दिया है कि उनकी यह मांग शासन तक पहुंचा कर इसका समाधान कराया जाएगा।

लॉकडाउन के कारण आम लोगों का व्यापार तो प्रभावित हुआ ही है वही धार्मिक स्थल में धार्मिक कार्य कराने में मदद करने वाले पुजारियों व पुरोहितों के सामने भी आर्थिक संकट खड़ा हो गया है, लॉक डाउन की वजह से मंदिर बंद थे लोगों ने इस दौरान मंदिर में दान भी कम दिया, दान देने वाले लोगों ने लॉकडाउन में परेशान लोगों की आर्थिक तौर पर मदद की जिसकी वजह से मंदिरों में चढ़ावा कम चढ़ा और मंदिर में रहने वाले पुजारियों और पुरोहित के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया, मंदिर पुजारी कहना है मंदिर में चढ़ावा कम आने की वजह से पूजा में इस्तेमाल होने वाली चीजें भी उपलब्ध नहीं है जिसकी वजह से काफ़ी समस्या हो रही है, कोरोना काल के कारण विवाह भी अब सादगी से हो रहे हैं, विवाह में ब्राह्मण को जो धन ख़र्च होता था वो भी नही मिल रहा है, उन्होंने मांग की जैसे मस्जिद के मौलवियों को दिया जाता है, ब्राह्मण बंधु के सामने काफ़ी समस्या आ रही है, मंदिर के पुजारी विनीत कुमार शर्मा और विजय कांत पांडे ने जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा है और कहा है कि उनकी और उनके जैसे अन्य पुजारियों की सरकार मदद करें उनके सामने काफी गंभीर आर्थिक समस्याएं आ गई हैं, इसके साथ ही पुजारियों का कहना था कि स्कूलों ने फीस काफी बढ़ा दी हैं जिसकी वजह से उन्हें अपने बच्चों का पढ़ाना भी मुश्किल हो गया है इसलिए सरकार स्कूल की फीस भी कम कराएं।

प्रदर्शन करने वाले पुजारियों ने कहा कि अगर सरकार ने उनकी मांगों पर विचार कर समाधान नहीं किया तो वह फिर अपने ब्राह्मण समाज के जरिए इस आवाज को और ऊंचे स्तर पर उठाएंगे और अपने जनपद के सांसद विधायकों के द्वारा भी अपनी आवाज सरकार तक पहुंच जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

गन्ना किसानों को बकाया पर उत्तर प्रदेश समेत 16 राज्यों को सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी किया

सुप्रीम कोर्ट ने गन्ना किसानों के बकाया भुगतान और कीमतों को लेकर तंत्र बनाने की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने...

मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल में एक बार फिर मंडराये संशय के बादल

मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल में एक बार फिर पेंच फंसता नजर आ रहा है। अब मंत्रिमंडल फेरबदल होगा या नहीं इस पर...

भारत के तीन दिवसीय दौरे पर अमेरिकी सेना प्रमुख जनरल जेम्स मैककॉनविल

भारत के तीन दिवसीय दौरे पर आए अमेरिकी सेना प्रमुख जनरल जेम्स मैककॉनविल ने आज सेना प्रमुख जनरल मनोज नरवणे से मुलाकात...

भाजपा सबके कल्याण का कार्य करते हुए आम आदमी के भरोसे व विश्वास की पार्टी बन गयी : डाॅ एमपी सिंह

सुलतानपुर: भारतीय जनता पार्टी के कूरेभार मण्डल कार्यसमिति की बैठक गीता मन्दिर कूरेभार में आयोजित हुई।मण्डल अध्यक्ष संदीप पाण्डेय की अध्यक्षता में...

Recent Comments