24.3 C
Meerut
Tuesday, October 4, 2022
Home शहर और राज्य उत्तर प्रदेश असंगठित कर्मकार सामाजिक सुरक्षा के अंतर्गत असंगठित श्रमिकों के पंजीकरण...

उत्तर प्रदेश असंगठित कर्मकार सामाजिक सुरक्षा के अंतर्गत असंगठित श्रमिकों के पंजीकरण को लेकर डीएम ने की बैठक।

अमेठी-जिलाधिकारी अरुण कुमार की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभागार में उत्तर प्रदेश असंगठित कर्मकार सामाजिक सुरक्षा के अंतर्गत असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के पंजीकरण हेतु बैठक आयोजित हुई। बैठक के दौरान सहायक श्रमायुक्त ने बताया कि शासन द्वारा असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का ऑनलाइन पंजीकरण कराने हेतु विभागीय पोर्टल www.upssb.in विकसित किया गया है, जिसमें असंगठित क्षेत्र के 45 प्रकार के श्रमिकों का पंजीकरण किया जाना है, जिसमें धोबी, दर्जी, माली, मोची, नाई, बुनकर, कोरी, जुलाहा, रिक्शा चालक, घरेलू कर्मकार, कूड़ा बीनने वाले, हाथ ठेला चलाने वाले, फुटकर सब्जी फल फूल विक्रेता, चाय चाट ठेला लगाने वाले, फुटपाथ व्यापारी, हमाल, कुली, जनरेटर/लाइट उठाने वाले, केटरिंग में कार्य करने वाले, फेरी लगाने वाले, मोटर साइकिल/साइकिल मरम्मत करने वाले, गैरेज कर्मकार, परिवहन में लगे कर्मकार, ऑटो चालक, सफाई कर्मचारी, ढोल/बाजा बजाने वाले, टेंट हाउस में काम करने वाले, मछुआरा, तांगा/बैल गाड़ी चलाने वाले, अगरबत्ती (कुटीर उद्योग) बनाने वाले कर्मकार, गाड़ीवान, घरेलू उद्योग में लगे मजदूर, भड़ दूजे (मुर्रा चना फोड़ने वाले), पशुपालन, मत्स्य पालन, मुर्गी, बत्तख पालने में लगे कर्मकार, दुकानों में काम करने वाले ऐसे मजदूर (जो ईपीएफ व ईएसआई से आवर्त ना हो), खेतिहर कर्मकार, चरवाहा, दूध होने वाले, नाव चलाने वाला नाविक, नट नटनी, रसोईया, हड्डी बीनने वाले, समाचार पत्र बांटने वाले, ठेका मजदूर, खड्डी पर कार्य करने वाले, दरी कंबल जरी जरदोजी चिकन कार्य करने वाले, मीट शॉप व पोल्ट्री फार्म पर कार्य करने वाले, डेरी पर कार्य करने वाले तथा कांच की चूड़ी एवं अन्य कांच के उत्पादों में स्वरोजगार करने वाले कर्मकार शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में नायब तहसीलदार, तहसीलदार सहायक विकास अधिकारी, खंड अधिकारी एवं नगरी क्षेत्र में असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के पंजीयन का कार्य आने सेवायोजन अधिकारी, अधिशासी अधिकारी, सहायक नगर आयुक्त द्वारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि शासन द्वारा जनपद में 133500 असंगठित क्षेत्र के कर्मकारों का पंजीकरण कराने का लक्ष्य दिया गया है। बैठक में जिलाधिकारी ने विस्तृत कार्य योजना बनाकर अधिक से अधिक असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का पंजीकरण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ब्लाकवार कैंप लगाकर श्रमिकों को इसकी जानकारी देने के साथ ही उनका पंजीकरण भी कराया जाए। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी डा. अंकुर लाठर, जिला विकास अधिकारी प्रदीप कुमार पाण्डेय, सहायक श्रम आयुक्त, सहायक सेवायोजन अधिकारी अनुपमा रानी, अधिशासी अधिकारी सहित अन्य संबंधित मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर ओम प्रकाश चौटाला ने एचडी देवगौड़ा एवं मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा एवं उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

BJP के खिलाफ कांग्रेस का गद्दी छोड़ो अभियान, प्रदेश अध्यक्ष लल्लू ने कहा- ट्रस्ट के साथ मिलकर सरकार ने अयोध्या में की चंदा चोरी

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले प्रदर्शन और नारेबाजी का दौर शुरू हो गया है। खुद को फिर देश के सबसे...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू कर दिया...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू...

धनबाद जज हत्या मामला, सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया।

धनबाद एडिशनल सेशन जज की कथित हत्या का मामला। सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग...

Recent Comments