33.3 C
Meerut
Wednesday, August 4, 2021
Home अपराध प्रेमी संग मिलकर पति को उतारा मौत के घाट, हाथ पैर बांध...

प्रेमी संग मिलकर पति को उतारा मौत के घाट, हाथ पैर बांध लगाया बिजली के तार से करंट

बाराबंकी जिले में एक व्यक्ति के खौफनाक कत्ल की साजिश का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। मृतक की पत्नी ने प्रेमी के साथ मिल कर पहले अपने पति की हत्या कर दी और राज छिपाने के लिए पति को बिजली के तार से करंट लगा दिया। मामले में पुलिस ने पत्नी और प्रेमी को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पत्‍नी ने अपना अपराध स्‍वीकार किया है।यूपी के बाराबंकी जिले से रिश्ते को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। मामला जिले के जैदपुर कोतवाली क्षेत्र के बोजा गांव का है। जहां अवैध रिश्तों में रुकावट बन रहे पति को एक पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर हत्या कर दी और हत्या को घटना का रूप देने के लिए पति के पैर में बिजली के करंट का तार लगा दिया जिसे हत्या घटना साबित हो सके।घटना के बाद मृतक के भाई ने पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस को मृतक के भाई ने पत्नी के अवैध संबंधों की जानकारी पुलिस को दी है पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर घटना की छानबीन में जुट गई। महज 48 घंटों के अंदर पुलिस ने पत्नी और प्रेमी को गिरफ्तार करते हुए घटना का खुलासा कर दिया। पुलिस के अनुसार मृतक जगन्नाथ की पत्नी कमला उर्फ सुनीता का जैदपुर टिकरा निवासी मेराज के साथ कुछ महीनों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। सुनीता ने बताया कि दिसंबर 2020 में मेरे पति को मेराज ने काम करने के लिए राजस्थान भेजा था इसी बीच मेरे और मेराज के बीच नजदीकियां बढ़ी थीं।जगन्नाथ की हत्यारोपी पत्नी सुनीता ने पुलिस पूछताछ में बताया है कि एक दिन मेरे लड़के ने मुझे मेराज के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था और इस बात को मेरे लड़के ने मेरे पति व घरवालों को बताया था जिसकी चर्चा गांव में भी शुरू हो गई थी। इस बात को लेकर घरवाले मेराज के घर आने-जाने पर आपत्ति जताने लगे। पति जगन्नाथ ने 17 जुलाई को अपने दोस्तों के साथ जम कर शराब पी और बदनामी का हवाला देते हुए मेराज को रास्ते से हटाने की योजना बनाई थी। लेकिन ये बात मैंने पहले ही अपने प्रेमी मेराज को बता दी और पति जगन्नाथ को रास्ते से हटाने का योजना बना डाली।घटना का खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. अवधेश सिंह ने बताया है कि आरोपी पत्नी सुनीता ने बताया कि 18 जुलाई को जब घरवाले सो गये तो मेराज उसी रात को मेरे घर आया और फिर मैंने और मेराज ने मिलकर अपने पति की गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या को दुर्घटना का रूप देने के लिए मेराज और मैं अपने पति जगन्नाथ को घर के अन्दर ले गई और बिजली बोर्ड से एक तार निकाल कर पैर में लगा दिया ताकि लोगों को यह लगे कि जगन्नाथ की मौत बिजली के करंट लगने से हुई है। पुलिस ने घटना का खुलासा करते हुए हत्यारोपी पत्नी और प्रेमी मेराज को गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

गन्ना किसानों को बकाया पर उत्तर प्रदेश समेत 16 राज्यों को सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी किया

सुप्रीम कोर्ट ने गन्ना किसानों के बकाया भुगतान और कीमतों को लेकर तंत्र बनाने की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने...

मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल में एक बार फिर मंडराये संशय के बादल

मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल में एक बार फिर पेंच फंसता नजर आ रहा है। अब मंत्रिमंडल फेरबदल होगा या नहीं इस पर...

भारत के तीन दिवसीय दौरे पर अमेरिकी सेना प्रमुख जनरल जेम्स मैककॉनविल

भारत के तीन दिवसीय दौरे पर आए अमेरिकी सेना प्रमुख जनरल जेम्स मैककॉनविल ने आज सेना प्रमुख जनरल मनोज नरवणे से मुलाकात...

भाजपा सबके कल्याण का कार्य करते हुए आम आदमी के भरोसे व विश्वास की पार्टी बन गयी : डाॅ एमपी सिंह

सुलतानपुर: भारतीय जनता पार्टी के कूरेभार मण्डल कार्यसमिति की बैठक गीता मन्दिर कूरेभार में आयोजित हुई।मण्डल अध्यक्ष संदीप पाण्डेय की अध्यक्षता में...

Recent Comments