31.8 C
Meerut
Sunday, September 19, 2021
Home शहर और राज्य सपा-बसपा की राह पर कांग्रेस, दलितों को रिझाने के लिए निकाली स्वाभिमान...

सपा-बसपा की राह पर कांग्रेस, दलितों को रिझाने के लिए निकाली स्वाभिमान यात्रा, कहा- हम नहीं करते वोटबैंक की राजनीति

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में सभी राजनीतिक दलों ने अपना दमखम दिखाना शुरू कर दिया है। पार्टियां नई-नई रणनीतियों के साथ मैदान में उतर रही हैं। एक तरफ जहां बसपा ने ब्राह्मणों को रिझाने के लिए अयोध्या से ब्राह्मण सम्मेलन की शुरुआत की, तो वहीं कांग्रेस अब दलितों को साधने में जुट गई है। यूपी में कांग्रेस ने जातीय कार्ड खेलते हुए दो दिन के लिए दलित सम्मान दिवास मनाया और दलित स्वाभिमान यात्रा। माना जा रहा है कि यूपी में ब्राह्मणों से अधिक दलित मतदाताओं को देखते हुए कांग्रेस ने उन्हें रिझाने के लिए ये रणनीति तैयार की है।

इसी क्रम में आज बाराबंकी के जसमंडा गांव में कांग्रेस ने दलित सम्मान दिवस मनाया। जिसमें अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष और कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता तनुज पुनिया, जिलाध्यक्ष मोहम्मद मोहसिन समेत कई नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे। इस दौरान कांग्रेस नेता तनुज पुनिया ने कहा कि दलित सम्मान दिवस इसलिए मनाया जा रहा है कि तीन अगस्त को डॉ. बीआर अंबेडकर ने प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की कैबिनेट में कानून मंत्री के रूप में शपथ ली थी। यह एक तरह से दलितों को सम्मान देने की बात है। जबकि उस समय अंबेडकर कांग्रेस पार्टी में नहीं थे, उसके बावजूद उन्हें मंत्री बनाने का प्रस्ताव प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू जी ने कैबिनेट में रखा था, उसके बाद ही 15 अगस्त को उन्होंने कानून मंत्री का कार्यभाल संभाला। उन्होंने बसपा और सपा के ब्राह्मण सम्मेलन पर कहा कि बाकी दलों की तरह कांग्रेस का दलित सम्मान कार्यक्रम वोटबैंक के लिये नहीं है। बल्कि हम समाज में जाकर समाज के लिये काम कर रहे हैं।

तनुज पुनिया ने कहा कि हम लोग दलित भाइयों से हम घर-घर जाकर मिलेंगे और उनको हम बताएंगे कि कांग्रेस पार्टी ने उनके लिए पिछले समय में क्या-क्या काम किए हैं। साथ ही उनको हक और अधिकार के लिए भी जागरुक किया जाएगा, ताकि वे अपना अधिकार और हक जान सकें। उन्होंने कहा कि दलित भाइयों को हम यह भी बताएंगे कि हमने उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के दौरान पिछले सारे 4 सालों में क्या-क्या काम किए हैं और किन-किन गंभीर मुद्दों को उठाकर सरकार को चेताकर उसके खिलाफ आवाज उठाई है, चाहे वह नौजवान के रोजगार की बात हो या फिर महंगाई से लेकर, बिजली, पानी, सड़क और विकास का मुद्दा. इन सभी चीजों से हम अपने दलित भाइयों को अवगत कराएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर ओम प्रकाश चौटाला ने एचडी देवगौड़ा एवं मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा एवं उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

BJP के खिलाफ कांग्रेस का गद्दी छोड़ो अभियान, प्रदेश अध्यक्ष लल्लू ने कहा- ट्रस्ट के साथ मिलकर सरकार ने अयोध्या में की चंदा चोरी

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले प्रदर्शन और नारेबाजी का दौर शुरू हो गया है। खुद को फिर देश के सबसे...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू कर दिया...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू...

धनबाद जज हत्या मामला, सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया।

धनबाद एडिशनल सेशन जज की कथित हत्या का मामला। सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग...

Recent Comments