24.8 C
Meerut
Sunday, September 19, 2021
Home पॉलिटिक्स मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल में एक बार फिर मंडराये संशय के बादल

मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल में एक बार फिर मंडराये संशय के बादल

मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल में एक बार फिर पेंच फंसता नजर आ रहा है। अब मंत्रिमंडल फेरबदल होगा या नहीं इस पर संशय के बादल मंडराने लगे हैं। दरअसल मंत्रिमंडल फेरबदल में नया पेंच मंत्रिमंडल पुनर्गठन को लेकर है जिसे मानने को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राजी नहीं है।

यही वजह है कि सीएम गहलोत को मनाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पहले जहां कुमारी शैलजा को भेजा तो वहीं मंगलवार को कांग्रेस आलाकमान के करीबी डीके शिवकुमार को मुख्यमंत्री से मुलाकात करने भेजा। डीके शिवकुमार ने मंगलवार को जयपुर पहुंचते तकरीबन डेढ़ घंटे तक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से लंबी मंत्रणा की और उसके बाद दिल्ली चले गए जहां वे बुधवार को पार्टी के शीर्ष नेताओं से मुलाकात करेंगे। सूत्रों की माने तो पार्टी आलाकमान और सचिन पायलट कैंप की मंशा मंत्रिमंडल पुनर्गठन है जिसे मानने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राजी नहीं हैं।

सीएम गहलोत चाहते हैं कि मंत्रिमंडल पुनर्गठन की बजाए मंत्रिमंडल का विस्तार हो और मंत्रिमंडल में जो रिक्त पद हैं उन्हें भरा जाए। मंत्रिमंडल पुनर्गठन को लेकर मुख्यमंत्री से बातचीत के लिए पहले जहां कांग्रेस आलाकमान ने हरियाणा प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी शैलजा को अचानक जयपुर भेजा तो मंगलवार को कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार आलाकमान के संदेशवाहक बनकर सीएम गहलोत से मिले। दरअसल मंत्रिमंडल पुनर्गठन पेंच फंसने की एक वजह यह भी है कि अगर मंत्रिमंडल पुनर्गठन होता है तो सभी मंत्रियों के इस्तीफे हो जाएंगे, ऐसे में सीएम गहलोत नहीं चाहते हैं कि सभी मंत्रियों का इस्तीफा हो, चूंकि इससे सियासी संकट के दौरान सीएम गहलोत का साथ देने वाले मंत्रियों में नाराजगी बढ़ सकती है।

इसीलिए सीएम गहलोत पुनर्गठन नहीं करनी की बात पर अड़े हुए हैं। इधर मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल की सुगबुगाहट के बीच पार्टी के 5 बड़े नेता मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात करने जयपुर पहुंचे। पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल अजय माकन पहुंचे थे और मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी। उसके बाद घोषणा पत्र समिति के चेयरमैन ताम्रध्वज साहू, कुमारी शैलजा और डीके शिवकुमार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात करने पहुंचे थे।

सूत्रों की माने कांग्रेस आलाकमान मंत्रिमंडल फेरबदल में पायलट कैंप के नेताओं को भी अहमियत देकर सचिन पायलट को कुछ करना चाहते हैं कि जिससे 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी पूरी तैयारी के साथ चुनाव मैदान में उतरे इसी के चलते कांग्रेस आलाकमान सीएम गहलोत से लगातार मंत्रिमंडल पुनर्गठन का संदेश देकर अपने संदेशवाहक ओं को जयपुर भेज रहे हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर ओम प्रकाश चौटाला ने एचडी देवगौड़ा एवं मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा एवं उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से की मुलाकात

BJP के खिलाफ कांग्रेस का गद्दी छोड़ो अभियान, प्रदेश अध्यक्ष लल्लू ने कहा- ट्रस्ट के साथ मिलकर सरकार ने अयोध्या में की चंदा चोरी

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले प्रदर्शन और नारेबाजी का दौर शुरू हो गया है। खुद को फिर देश के सबसे...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू कर दिया...

त्रिपुरा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा को हराने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने जोर लगाना शुरू...

धनबाद जज हत्या मामला, सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया।

धनबाद एडिशनल सेशन जज की कथित हत्या का मामला। सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मामले को मॉनिटरिंग...

Recent Comments